Monday, December 5, 2011

बोलती कहानियाँ - कफन- मुंशी प्रेमचन्द

'बोलती कहानियाँ' इस स्तम्भ के अंतर्गत हम आपको सुनवा रहे हैं प्रसिद्ध कहानियाँ। पिछले सप्ताह आपने अनुराग शर्मा की आवाज़ में हरिशंकर परसाई की लघुकथा 'ढपोलशंख मास्टर'  का पॉडकास्ट सुना था। रेडियो प्लेबैक इंडिया की ओर से आज हम लेकर आये हैं प्रसिद्ध हिंदी साहित्यकार मुंशी प्रेमचन्द की कालजयी कहानी "कफन ", जिसको स्वर दिया है अमित तिवारी ने।

कहानी का कुल प्रसारण समय 17 मिनट 25 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं।

यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं हमसे संपर्क करें। अधिक जानकारी के लिए कृपया हमें admin@radioplaybackindia.com पर संपर्क करें.

नीचे के प्लेयर से सुनें.


यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाउनलोड कर लें:
VBR MP3

5 comments:

Smart Indian said...

स्वागत है अमित! आशा है आगे भी तुम्हारी आवाज़ में और कहानियाँ सुनने को मिलती रहेंगी।

Archana Chaoji said...

बहुत अच्छा लगा सुनना....एक नई आवाज से परिचय ..सुखद ...

Amit said...

अनुराग जी बिलकुल कोशिश जारी रहेगी.
अर्चना जी धन्यवाद. कमियों से अवगत कराइएगा

Sajeev said...

badhiya prayas hai....bas thoda sa thahraav laayen vaachan men...isse shrota ko kahani se judaav jyada hoga

कृष्णमोहन said...

अमित जी, आपकी अभिनय करती आवाज़ में प्रेमचन्द की कहानी ‘कफन’ सुन कर आनन्द आ गया।

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ