Jalta hai Badan लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Jalta hai Badan लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

मंगलवार, 24 अप्रैल 2012

२४ अप्रैल- आज का गाना



गाना: जलता है बदन

चित्रपट: रज़िया सुल्तान
संगीतकार:खैय्याम

स्वर: 
लता





जलता है बदन
हो ... हाय! जलता है बदन
प्यास भड़की है
प्यास भड़की है सरे शाम से जलता है बदन \- २
इश्क़ से कह दो कि ले आए कहीं से सावन
प्यास भड़की है सरे शाम से जलता है बदन
जलता है बदन \- २

जाने कब रात ढले, सुबह तक कौन जले
दौर पर दौर चले, आओ लग जाओ गले
आओ लग जाओ गले कम हो सीने की जलन
प्यास भड़की है सरे शाम से जलता है बदन
जलता है बदन \- ३
ओ आह! जलता है बदन

देख जल जाएंगे हम, इस तबस्सुम की कसम
अब निकल जायेगा दम, तेरे बाहों में सनम
दिल पे रख हाथ कि थम जाये दिल की धड़कन
प्यास भड़की है सरे शाम से जलता है बदन
जलता है बदन
इश्क़ से कह दो के ले आये कहीं से सावन
प्यास भड़की है सरे शाम से जलता है बदन
जलता है बदन \- २
ओ ... हाय जलता है बदन
जलता है बदन ...





The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ