बुधवार, 21 मार्च 2012

२१ मार्च- आज का गाना


गाना: तुझे जीवन की डोर से, बाँध लिया है, तेरी ज़ुल्म-ओ-सितम


चित्रपट:असली नकली
संगीतकार:शंकर - जयकिशन
गीतकार:हसरत
स्वर: रफ़ी , लता








रफ़ी: तुझे जीवन की डोर से, बाँध लिया है, बाँध लिया है
तेरे ज़ुल्म\-ओ\-सितम, सर आँखों पर
लता: मैने बदले में प्यार के, प्यार दिया है, प्यार दिया है
तेरी खुशियाँ और गम, सर आँखों पर
रफ़ी: तुझे जीवन की ...

(अप्सरा कोई आए तो देखूँ नहीं
कोई बहकाये हंसके तो बहकूँ नहीं   ) \- २
तोरे मतवारे नैनों ने, जादू किया
ओ ... तोरे मतवारे नैनों ने, जादू किया
तेरी उल्फ़त सनम सर आँखों पर ...

(मेरे जीवन की अनमिट कहानी है तू
मेरी तक़दीर और ज़िंदगानी है तू  ) \- २
लिये फ़िरते हैं सबसे छुपाये हुए
ओ ... लिये फ़िरते हैं सबसे छुपाये हुए
तेरी तसवीर हम सर आँखों पर ...

चाँड सूरज भी हैं तेरी परछाइयाँ
तुझ से रोशन हुई दिल की गहराइयाँ
तेरे चेहरे की झिलमिल से मंज़िल मिली
ओ तेरे चेहरे की झिलमिल से मंज़िल मिली
ऐसी प्यारी पूनम सर आँखों पर ...

(दोनो): तुझे जीवन की डोर से, बाँध लिया है, बाँध लिया है
तेरे ज़ुल्मो\-सितम, सर आँखों पर




कोई टिप्पणी नहीं:

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ