बुधवार, 18 अप्रैल 2012

१८ अप्रेल- आज का गाना


गाना: तेरी बिंदिया रे आय हाय, तेरी बिंदिया रे


चित्रपट: अभिमान
संगीतकार:सचिन देव बर्मन
गीतकार:मजरूह सुलतान पुरी
स्वर: रफ़ी, लता





रफ़ी: हूँ ..., ओ...
तेरी बिंदिया रे
रे आय हाय
तेरी बिंदिया रे \- २
रे आय हाय
लता: सजन बिंदिया ले लेगी तेरी निंदिया
रफ़ी: रे आय हाय
तेरी बिंदिया रे

रफ़ी: तेरे माथे लगे हैं यूँ, जैसे चंदा तारा
जिया में चमके कभी कभी तो, जैसे कोई अन्गारा
तेरे माथे लगे हैं यूँ
लता: सजन निंदिया...
सजन निंदिया ले लेगी ले लेगी ले लेगी
मेरी बिंदिया
रफ़ी: रे आय हाय
तेरा झुमका रे
रे आय हाय
तेरा झुमका रे
लता: चैन लेने ना देगा सजन तुमका
रे आय हाय मेरा झुमका रे

लता: मेरा गहना बलम तू, तोसे सजके डोलूं
भटकते हैं तेरे ही नैना, मैं तो कुछ ना बोलूं
मेरा गहना बलम तू
रफ़ी: तो फिर ये क्या बोले है बोले है बोले है
तेरा कंगना
लता: रे आय हाय
मेरा कंगना रे
बोले रे अब तो छूटे न तेरा अंगना
रफ़ी: रे आय हाय
तेरा कंगना रे

रफ़ी: तू आयी है सजनिया, जब से मेरी बनके
ठुमक ठुमक चले है जब तू, मेरी नस नस खनके
तू आयी है सजनिया
लता: सजन अब तो
सजन अब तो छूटेना छूटेना छूटेना
तेरा अंग्ना
रफ़ी: रे आय हाय
तेरा कंगना रे
लता: सजन अब तो छूटेना तेरा अंगना
रे आय हाय
तेरा अंगना रे




कोई टिप्पणी नहीं:

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ