Tuesday, October 14, 2008

राकेश खंडेलवाल की पुस्तक के विमोचन-समारोह के वीडियो-अंश

साथ में समीरलाल, राकेश खंडेलवाल, रजनी भार्गव, अनूप भार्गव, घनश्याम गुप्ता और डॉ॰ सत्यपाल आनंद का काव्य-पाठ


शनिवार ११ अक्टूबर २००८ को अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कवि राकेश खंडेलवाल के कविता संग्रह 'अंधेरी रात का सूरज' का एक साथ तीन जगहों से विमोचन हुआ। पहला तो पुस्तक के प्रकाशक पंकज सुबीर के शहर सीहोर में, दूसरा इसी मंच पर आम श्रोताओं द्वारा और तीसरा वाशिंगटन डीसी में। इस ब्लॉग पर आप विमोचन और काव्य पाठ का आनंद तो ले ही चुके हैं। आज हम लाये हैं, अनूप भार्गव की मदद से तैयार वाशिंगटन समारोह के कुछ वीडियो-अंश।

डॉ॰ सत्यपाल आनन्द जी राकेश जी के बारे में अपने विचार रखते हुए



पुस्तक का विमोचन करते हुए डॉ॰ सत्यपाल आनंद



घनश्याम गुप्ता जी काव्य पाठ



घनश्याम गुप्ता जी काव्य पाठ - २



समीर लाल काव्य पाठ



डॉ. सत्यपाल आनन्द काव्य पाठ



रजनी भार्गव का काव्य-पाठ



अनूप भार्गव का काव्य-पाठ



'अंधेरी रात का सूरज' (कविता-संग्रह) के विमोचन समारोह में काव्य पाठ करते राकेश खंडेलवाल



यदि आपने अभी तक खुद के हाथों इस कविता-संग्रह का विमोचन नहीं किया तो यहाँ क्लिक करके अवश्य करें।

3 comments:

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

बहुत अच्छा लगा. पहले ऑनलाइन विमोचन और घर बैठे सम्पूर्ण समारोह में शिरकत कर पाना. इस प्रकार के कवरेज भविष्य में भी हम तक पहुंचाते रहें.

सजीव सारथी said...

अनूप जी और समीर जी मुझे ब्लॉग्गिंग में लेकर आने वाले दो इंसान हैं, समीर जी और राकेश जी से तो व्यक्तिगत रूप से मुलाकात हो चुकी है, अनूप जी को आज काव्य पाठ करते सुना, मज़ा आ गया, ये अवसर पूरे ब्लॉग्गिंग जगत के लिए बेहद खुशी का है राकेश जी को विशेष बधाई साथ में पंकज जी का प्रयास भी विशेष सरह्निये है , ब्लॉग्गिंग जगत और आगे बढे और भाषा के सिपाही नए मुकाम हासिल करें यही कामना है

शैलेश भारतवासी said...

समारोह को वीडियो बहुत साफ रिकॉर्ड हुआ है। आवाज़ भी क्लियर है। बहुत अच्छा लगा देख-सुनकर

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ