Thursday, August 7, 2008

ऑनलाइन अभिनय और काव्यपाठ का मौका

आवाज़ पर हम कहानियों और कविताओं का पॉडकास्ट प्रकाशित करते आये हैं। कहानी-कलश की कहानियों के पॉडकास्ट के प्रसारण के तहत हमने सूरज प्रकाश की कहानी 'दो जीवन समांतर', राजीव रंजन प्रसाद की कहानी 'ज़िंदा हो गया है' और रंजना भाटिया की कहानी 'एक और मुखौटा' का प्रसारण किया है। श्रोताओं से बहुत अच्छी प्रतिक्रियाएँ मिलीं।

कहानी के पॉडकास्ट के प्रसारण के लिए

अब से हम कहानियों के पॉडकास्ट के माध्यम से सभी श्रोताओं को अभिनय का मौका दे रहे हैं। हम प्रत्येक माह एक कहानी चुनकर आपको देंगे, जिसमें आप निम्न तरह से अपनी आवाज़ दे सकते हैं-


  • कहानी का नैरेटर (वाचक) बनकर

  • किसी एक पात्र के सभी संवादों को रिकॉर्ड करके

  • सभी पात्रों के संवादों को आवाज़ देकर



हमारी संपादकीय टीम को जिस पॉडकास्टर की आवाज़, जिस भाग के लिए बढ़िया लगेगी, उसका इस्तेमाल करके संपूर्ण कहानी का पॉडकास्ट तैयार किया जायेगा और प्रसारित किया जायेगा।

इस बार के लिए हमने जिस कहानी को चुना है वो है नवलेखन पुरस्कार प्राप्त कहानी 'स्वेटर'। आप कहानी पढ़ें और अपनी रिकॉर्डिंग १८ अगस्त २००८ तक podcast.hindyugm@gmail.com पर भेजें।

यदि आप रिकॉर्डिंग के लिए नये हैं और आपको यह नहीं पता कि अपनी आवाज़ कैसे रिकॉर्ड करें तो हमारी e-मदद लें

पॉडकास्ट कवि सम्मेलन के लिए

पिछले महीने से हमने ऑनलाइन सम्मिलित काव्य-पाठ का भी आयोजन किया। लोगों ने काफी पसंद किया। पहला अंक यहाँ से सुनें। हम अगस्त माह के पॉडाकस्ट कवि सम्मेलन के लिए कवियों से ऊनकी कविताएँ, उन्हीं की आवाज़ में आमंत्रित करते हैं। आप अपनी कविता/कविताएँ रिकॉर्ड करके २४ अगस्त २००८ तक podcast.hindyugm@gmail.com पर भेजें। अगस्त माह के पॉडकास्ट कवि सम्मेलन का अंक रविवार ३१ अगस्त २००८ को प्रसारित किया जायेगा।

यदि आप रिकॉर्डिंग के लिए नये हैं और आपको यह नहीं पता कि अपनी आवाज़ कैसे रिकॉर्ड करें तो हमारी e-मदद लें

1 comment:

shivani said...

awaaz ki duniya mein ek kadam or badhne ki khushi mein meri or se bahut bahut badhai....ab ghar baithey abhinay or gaayaki ka shauk poora karne ka is se achha mauka or kya ho sakta hai......hind yugm ko all the best...

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ