शनिवार, 4 अगस्त 2012

'सिने पहेली' के नए सेगमेण्ट की शुरुआत किशोर कुमार की याद के साथ...


सिने-पहेली # 31 (4 अगस्त, 2012) 


'रेडियो प्लेबैक इण्डिया' के सभी पाठकों और श्रोताओं को सुजॉय चटर्जी का सप्रेम नमस्कार, और स्वागत है आप सभी का 'सिने पहेली' स्तंभ में। प्रतियोगियों के अनुरोध पर आज से यह स्तंभ सोमवार के स्थान पर शनिवार को प्रकाशित हुआ करेगा। तीसरे सेगमेण्ट में कुल 26 खिलाड़ियों ने भाग लिया था, अब हम उम्मीद करेंगे कि चौथे सेगमेण्ट में यह संख्या बढ़ कर दुगुनी हो जाए! आप सब अपने सगे-संबंधियों, दोस्तों और सहयोगियों से इस प्रतियोगिता से जुड़ने का सुझाव दें। जितने ज़्यादा प्रतियोगी इसमें भाग लेंगे, खेल उतना ही ज़्यादा मज़ेदार व मनोरंजक बन पड़ेगा।

आज से 'सिने पहेली' का चौथा सेगमेण्ट शुरू हो रहा है जो अगले दस सप्ताह तक चलेगा। आइए आज सबसे पहले आपको बता दें 'सिने पहेली' प्रतियोगिता के नियम।

कैसे बना जाए 'सिने पहेली महाविजेता'?


1. सिने पहेली प्रतियोगिता में होंगे कुल 100 एपिसोड्स। इन 100 एपिसोड्स को 10 सेगमेण्ट्स में बाँटा गया है। अर्थात्, हर सेगमेण्ट में होंगे 10 एपिसोड्स।

2. प्रत्येक सेगमेण्ट में प्रत्येक खिलाड़ी के 10 एपिसोड्स के अंक जुड़े जायेंगे, और सर्वाधिक अंक पाने वाले तीन खिलाड़ियों को सेगमेण्ट विजेताओं के रूप में चुन लिया जाएगा। 

3. इन तीन विजेताओं के नाम दर्ज हो जायेंगे 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में। प्रथम स्थान पाने वाले को 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में 3 अंक, द्वितीय स्थान पाने वाले को 2 अंक, और तृतीय स्थान पाने वाले को 1 अंक दिया जायेगा। तीसरे सेगमेण्ट की समाप्ति पर अब तक का 'महाविजेता स्कोरकार्ड' यह रहा...



4. 10 सेगमेण्ट पूरे होने पर 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में दर्ज खिलाड़ियों में सर्वोच्च पाँच खिलाड़ियों में होगा एक ही एपिसोड का एक महा-मुकाबला, यानी 'सिने पहेली' का फ़ाइनल मैच। इसमें पूछे जायेंगे कुछ बेहद मुश्किल सवाल, और इसी फ़ाइनल मैच के आधार पर घोषित होगा 'सिने पहेली महाविजेता' का नाम। महाविजेता को पुरस्कार स्वरूप नकद 5000 रुपये दिए जायेंगे, तथा द्वितीय व तृतीय स्थान पाने वालों को दिए जायेंगे सांत्वना पुरस्कार।

तो चलिए शुरू किया जाए 'सिने पहेली' का चौथा सेगमेण्ट, अर्थात् 'सिने पहेली' # 31

आज की पहेलियाँ : बूझो तो जाने...


दोस्तों, आज 4 अगस्त है। गायक और हरफ़नमौला कलाकार, हम सब के चहेते, किशोर कुमार का जनमदिवस। इसलिए आइए किशोर दा के गाये गीतों पर आधारित करें आज की पहेलियाँ। नीचे हम पाँच पहेलियाँ लिख रहे हैं, हर पहेली के लिए आपको पहचानना है गीत। अर्थात् आपको बताना है कि प्रत्येक पहेली किस गीत की तरफ़ इशारा कर रही है। तो ये रही आज की पहेलियाँ...



किशोर बने बंगाली बाबू, मद्रासी बनीं आशा, 
प्रेम निवेदन करते करते गूँजी प्यार की भाषा।





चुटकुले पे चुटकुला, किशोर दा चले सुनाते हुए,
बच्चों के संग बच्चे बन कर काका हैं छाए हुए।  




पंचम ने कहा किशोर से, लाया हूँ एक गाना राग शिवरंजिनी जैसा,
तेरे राग की ऐसी तैसी, पहले लता से गवा, तब गाऊँगा बिलकुल वैसा।  


यार को अल्लाह कहती किशोर दा की ये गजल,
सुर्खियों में न आ पाई, पर हीरा है असल।   


बाप और बेटे, दोनों के होठों पर सजा है यह गीत,
रोमीयो बने युवाओं को ख़ूब भाया यह गीत,
मुखड़े के पहले तीन शब्दों को लेकर बनी है एक फ़िल्म,
मुखड़े के अन्य चार शब्दों को लेकर भी बनी है एक फ़िल्म,
किस गीत की बात हो रही है, क्या आपको है यह इल्म?


*********************************************

और अब ये रहे इस प्रतियोगिता में भाग लेने के कुछ आसान से नियम....

1. उपर पूछे गए सवालों के जवाब एक ही ई-मेल में टाइप करके cine.paheli@yahoo.com के पते पर भेजें। 'टिप्पणी' में जवाब न कतई न लिखें, वो मान्य नहीं होंगे।

2. ईमेल के सब्जेक्ट लाइन में "Cine Paheli # 31" अवश्य लिखें, और अंत में अपना नाम व स्थान अवश्य लिखें।

3. आपका ईमेल हमें बृहस्पतिवार 9 अगस्त शाम 5 बजे तक अवश्य मिल जाने चाहिए। इसके बाद प्राप्त होने वाली प्रविष्टियों को शामिल नहीं किया जाएगा।

4. सभी प्रतियोगियों ने निवेदन है कि सूत्र या हिंट के लिए 'रेडियो प्लेबैक इण्डिया' के किसी भी संचालक या 'सिने पहेली' के किसी भी प्रतियोगी से फ़ोन पर या ईमेल के ज़रिए सम्पर्क न करे। हिंट माँगना और हिंट देना, दोनों इस प्रतियोगिता के खिलाफ़ हैं। अगर आपको हिंट चाहिए तो अपने दोस्तों, सहयोगियों या परिवार के सदस्यों से मदद ले सकते हैं जो 'सिने पहेली' के प्रतियोगी न हों।

तो बस अब जुट जाइए आज की पहेलियों के समाधान के लिए और निर्धारित समय सीमा के भीतर लिख भेजिए अपने जवाब। मैं आपसे फिर मिलूँगा अगले शनिवार 'सिने पहेली' की 32-वीं कड़ी के साथ। तब तक के लिए अनुमति दीजिए, नमस्कार!

1 टिप्पणी:

Pankaj Mukesh ने कहा…

बाप और बेटे, दोनों के होठों पर सजा है यह गीत,
रोमीयो बने युवाओं को ख़ूब भाया यह गीत,

इस परिस्थिति में दो विकल्प सही बैठ रहे हैं -बाप-बेटे (गायक) और नायक (अभिनेता). शत प्रतिशत किशोर कुमार विशेष एपिसोड है तो अमित कुमार और किशोर कुमार का गीत हो सकता है, मगर नायक (अभिनेता) वाला जवाब भी गलत नहीं है ! देखते हैं सुजोय जी का फैसला क्या है अगले सप्ताह सिने पहेली ३२ में !!!!

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ