Wednesday, October 26, 2016

"अगर अच्छी सिचुएशंस मिले तो रचनात्मकता का स्तर बढ़ जाता है" - विपिन पटवा : एक मुलाकात ज़रूरी है

एक मुलाकात ज़रूरी है (34)

हिंदी फ़िल्मी संगीत में मेलोडी और माधुर्य अभी कायम रहेगा इस बात की तसल्ली हो जाती है जब आप विपिन पटवा जैसे संगीतकार के रचे गीतों को सुनते हैं, मिलिए इसी युवा संगीतकार से आज के एपिसोड में, जिन्होंने इस साल "बॉलीवुड डायरिस", "लाल रंग" और अभी हाल ही में "वाह ताज" जैसी फिल्मों में यादगार गीत दिए हैं.



एक मुलाकात ज़रूरी है इस एपिसोड को आप यहाँ से डाउनलोड करके भी सुन सकते हैं, लिंक पर राईट क्लीक करें और सेव एस का विकल्प चुनें 

3 comments:

Anonymous said...

Nkli sonu nighm hai. Music tnha dil ki nkl hai

Anonymous said...

Nkli sonu nigam. Music tanha dil ki nkal hai. Bollywood kisi ne dekhi kya

HindIndia said...

बहुत ही उम्दा ..... बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति .... Thanks for sharing this!! :) :)

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ