गुरुवार, 8 अगस्त 2013

कातिल आँखों वाले दिलबर को रिझाती आशा की आवाज़

खरा सोना गीत - यार बादशाह यार दिलरुबा
स्वर  - दीप्ती सक्सेना
प्रस्तुति  - संज्ञा टंडन
स्क्रिप्ट - सुजॉय चट्टरजी



कोई टिप्पणी नहीं:

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ