Friday, January 24, 2014

धूम मचाती कमली ओर यारियाँ का अल्लाह वारियाँ

ताज़ा सुर ताल - 2014 -03 

ताज़ा सुर ताल की नई कड़ी में आप सब का स्वागत है, नए साल के पहले महीने में भी धूम ३ की धूम जारी है. कहना गलत नहीं होगा कि फिल्म की सफलता में इसके संगीत की भी जबरदस्त भूमिका रही है. धूम ३ से एक ओर धमाकेदार गीत लेकर आज हम हाज़िर हैं. सुनिधि चौहान के क्या कहने, आईटम गीतों के लिए तो वो संगीत निर्देशकों की पहली पसंद मानी जा सकती हैं. यूँ धूम ३ के इस गीत को पूरी तरह एक आईटम गीत भी नहीं कहा जा सकता, पर सुनिधि ने गीत में जो ऊर्जा फूंकी है वो अविश्वसनीय है. गीत की आरंभिक पक्तियों से ही वो श्रोताओं को अपने साथ जोड़ लेती है ओर अगले ४ मिनट तक उस पकड़ में कहीं कोई लचक नहीं छूटती. इस गीत का जिक्र हो ओर प्रीतम दा के अद्भुत संगीत संयोजन की तारीफ न हो ये संभव नहीं है. ये गीत वेस्टर्न रिदम पर शुद्ध भारतीय वाद्यों की जबरदस्त जुगलबंदी करता है. गीत के प्रिल्यूड में ओर इंटरल्यूड में सितार का प्रयोग तो लाजवाब है. सुनिए ये दमदार गीत जिसे लिखा है समीर साहब ने. 

  


नए साल की पहली हिट फिल्म है टीनएज लव की दास्ताँ कहती टी सीरीस की यारियाँ. इस फिल्म के गीत भी खासा पसंद किये जा रहे है इन दिनों. एल्बम के एक गीत बारिश का जिक्र हम पहले ही कर चुके है, आज सुनते हैं पाकिस्तान के मशहूर गायक शफकत अमानत अली खान की रूह को छूती आवाज़ में, अल्लाह वारियाँ. इस आवाज़ में गजब का जादू है दोस्तों, ये गीत एक दर्द भरा सूफियाना अंदाज़ का गीत है जिसे रचा है अर्को प्रवो मुखर्जी ने. अर्को भी टी सिरिस की गुड बुक में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं, और इस गीत की कामयाबी उन्हें नई ऊंचाईयां देगी यक़ीनन. लीजिए आनंद लें इस गीत का भी.


No comments:

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ