Saturday, June 22, 2013

परखिये अपना फिल्म संगीत ज्ञान

 
सिने पहेली – 69

अस्सी के दशक के फिल्म संगीत से कितने परिचित हैं आप


सिने पहेली के 69वें अंक के प्रश्नों के साथ आज मैं, कृष्णमोहन मिश्र आपके समक्ष हूँ। आज की पहेली में हम आपसे अस्सी के दशक अर्थात 1980 से लेकर 1989 के बीच प्रदर्शित फिल्मों के संगीत से सम्बन्धित पाँच सवाल पूछ कर आपके फिल्मी ज्ञान को परखने का प्रयास कर रहे हैं। 
इस अंक से प्रतियोगिता में जुड़ने वाले नये खिलाड़ियों का स्वागत करते हुए हम उन्हें यह भी बताना चाहेंगे कि अभी भी कुछ देर नहीं हुई है, आज से इस प्रतियोगिता में जुड़ कर भी आप महाविजेता बन सकते हैं, यही इस प्रतियोगिता की विशेषता है। इस प्रतियोगिता के नियमों का उल्लेख नीचे किया गया है, ध्यान दीजियेगा। आज की पहेली में कुल 10 अंकों का विभाजन 5 सवालों में किया गया है। आइए, आरम्भ करते हैं, आज की पहेली के प्रश्नों का सिलसिला। 
  

आज की पहेली


सवाल – 1 सुनिए तो

पहले प्रश्न के अन्तर्गत हम आपको 80 के दशक की एक फिल्म के गीत से ठीक पहले का एक संवाद सुनवाते हैं। इसे सुन कर आपको गीत पहचानना है। आप उस गीत का मुखड़ा, अर्थात गीत की आरम्भिक पंक्ति लिख भेजिए। यदि आप फिल्म का नाम भी बता देंगे तो आपको पूरे 1 अंक मिलेंगे।


सवाल – 2 मुखड़ा पहचानिए

अब हम आपको सुनवा रहे हैं एक मशहूर गीत की आरम्भिक पंक्ति। इसे सुन कर आपको बताना है कि यह गीत किस अभिनेत्री पर फिल्माया गया है? अभिनेत्री की सही पहचान करने पर आपका आधा अंक पक्का है और यदि आपने इस गीत के गीतकार का नाम भी बता दिया तो आपको पूरे एक अंक मिलेंगे।


सवाल – 3 चित्र-विचित्र

नीचे दिये गए चित्र में महानायक अमिताभ बच्चन जी को तो आपने पहचान ही लिया होगा। इस दृश्य को देख कर फिल्म का नाम, गीत का मुखड़ा, गीत के संगीतकार और फिल्म की नायिका (अभिनेत्री) का नाम हमें लिख भेजिए। यह प्रश्न पूरे दो अंकों का है।


सवाल - 4 रेशमी आवाज़

इस आडियो क्लिप को ध्यान से सुनिए और गायिका को पहचानिए। इस गायिका ने 80 के दशक की एक फिल्म में संयुक्त रूप से संगीत निर्देशन भी किया था।


सवाल – 5 हँसते-गाते

आज की कड़ी के अन्तिम प्रश्न के रूप में हम आपको 80 के दशक की बेहद लोकप्रिय फिल्म का एक पैरोडी गीत सुनवा रहे हैं। इस गीत में दस हिट गीतों की पैरोडी शामिल है। आप इन पैरोडी गीतों को क्रमशः ध्यान से सुनिए और मूल गीत को पहचानिए। पहले चार पैरोडी गीतों के मूल गीतों की आरम्भिक पंक्तियाँ अर्थात मूल गीत का मुखड़ा लिख भेजिए। पाँचवें से सातवें मूल गीत के गायक कलाकार/कलाकारों के नाम और आठवें से दसवें पैरोडी गीतों के मूल गीत जिन अभिनेता/अभिनेत्री पर फिल्माए गए हैं, उन अभिनय कलाकारों के नाम बताइए। यह प्रश्न आपको पूरे पाँच अंक दिला सकता है।



जवाब भेजने का तरीका 

उपर पूछे गए सवालों के जवाब एक ही ई-मेल में टाइप करके cine.paheli@yahoo.com के पते पर भेजें। 'टिप्पणी' में जवाब कतई न लिखें, वो मान्य नहीं होंगे। ईमेल के सब्जेक्ट लाइन में "Cine Paheli # 69" अवश्य लिखें, और अंत में अपना नाम व स्थान लिखें। आपका ईमेल हमें बृहस्पतिवार 27 जून, शाम 5 बजे तक अवश्य मिल जाने चाहिए। इसके बाद प्राप्त होने वाली प्रविष्टियों को शामिल नहीं किया जाएगा।


पिछली पहेली का हल


सवाल 1 – पण्डित हरिप्रसाद चौरसिया

सवाल 2 – ‘माटी कहे कुम्हार से…’, संगीतकार – अविनाश व्यास

सवाल 3 - संगीतकार – अनिल विश्वास, निर्देशक – ज्ञान मुखर्जी

सवाल 4 – ‘बहुत दिया देने वाले ने तुझको…’

सवाल 5 - अमीरबाई कर्नाटकी


पिछली पहेली के विजेता


सिने पहेली – 68 के विजेताओं के नाम और उनके प्राप्तांक निम्नवत हैं।

1. विजय कुमार व्यास – बीकानेर – 8 अंक
2. प्रकाश गोविन्द - लखनऊ - 8 अंक
3. पंकज मुकेश - बैंगलुरु - 8 अंक
4. चन्द्रकान्त दीक्षित - 4 अंक  



इस सेगमेण्ट का अब तक का सम्मिलित स्कोरकार्ड

नये प्रतियोगियों का आह्वान

नये प्रतियोगी, जो इस मज़ेदार खेल से जुड़ना चाहते हैं, उनके लिए हम यह बता दें कि अभी भी देर नहीं हुई है। इस प्रतियोगिता के नियम कुछ ऐसे हैं कि किसी भी समय जुड़ने वाले प्रतियोगी के लिए भी पूरा-पूरा मौका है महाविजेता बनने का। अगले सप्ताह से नया सेगमेण्ट शुरू हो रहा है, इसलिए नये खिलाड़ियों का आज हम एक बार फिर आह्वान करते हैं। अपने मित्रों, दफ़्तर के साथी, और रिश्तेदारों को 'सिने पहेली' के बारे में बताएँ और इसमें भाग लेने का परामर्श दें। नियमित रूप से इस प्रतियोगिता में भाग लेकर महाविजेता बनने पर आपके नाम हो सकता है 5000 रुपये का नगद इनाम।


कैसे बना जाए ‘सिने पहेली महाविजेता'


1. सिने पहेली प्रतियोगिता में होंगे कुल 100 एपिसोड्स। इन 100 एपिसोड्स को 10 सेगमेण्ट्स में बाँटा गया है। अर्थात्, हर सेगमेण्ट में होंगे 10 एपिसोड्स।

2. प्रत्येक सेगमेण्ट में प्रत्येक खिलाड़ी के 10 एपिसोड्स के अंक जुड़े जायेंगे, और सर्वाधिक अंक पाने वाले तीन खिलाड़ियों को सेगमेण्ट विजेताओं के रूप में चुन लिया जाएगा।

3. इन तीन विजेताओं के नाम दर्ज हो जायेंगे 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में। सेगमेण्ट में प्रथम स्थान पाने वाले को 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में 3 अंक, द्वितीय स्थान पाने वाले को 2 अंक, और तृतीय स्थान पाने वाले को 1 अंक दिया जायेगा।

4. 10 सेगमेण्ट पूरे होने पर 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में दर्ज खिलाड़ियों में सर्वोच्च पाँच खिलाड़ियों में होगा एक ही एपिसोड का एक महा-मुकाबला, यानी 'सिने पहेली' का फ़ाइनल मैच। इसमें पूछे जायेंगे कुछ बेहद मुश्किल सवाल, और इसी फ़ाइनल मैच के आधार पर घोषित होगा 'सिने पहेली महाविजेता' का नाम।


'सिने पहेली' को और भी ज़्यादा मज़ेदार बनाने के लिए अगर आपके पास भी कोई सुझाव है तो 'सिने पहेली' के ईमेल आइडी cine.paheli@yahoo.com पर अवश्य लिखें। आप सब भाग लेते रहिए, इस प्रतियोगिता का आनन्द लेते रहिए, क्योंकि महाविजेता बनने की लड़ाई अभी बहुत लम्बी है। आज के एपिसोड से जुड़ने वाले प्रतियोगियों के लिए भी 100% सम्भावना है महाविजेता बनने का। इसलिए मन लगाकर और नियमित रूप से (बिना किसी एपिसोड को मिस किए) सुलझाते रहिए हमारी सिने-पहेली, करते रहिए यह सिने मंथन, आज के लिए मुझे अनुमति दीजिए, अगले सप्ताह फिर मुलाक़ात होगी, नमस्कार। 
 

6 comments:

Vijay Vyas said...

मेरे हिसाब से पिछली पहेली के सवाल 1 का उत्‍तर, जिसका जवाब आपने पण्डित हरिप्रसाद चौरसिया बताया है, सभी ने गलत भेजा होगा। कृपया बताने का श्रम करेंगें‍ कि किस किस ने क्‍या क्‍या जवाब भेजा। मैनें इसके उत्‍तर में संगीतकार खय्याम जी का नाम भेजा था। आभार ।

Amit said...

विजय जी आप सही कह रहे हैं. अंकों से आपने अनुमान लगा ही लिया होगा कि कोई भी इस बार सभी उत्तर सही नहीं दे पाया. आप पंडित जी का पूरा साक्षात्कार इस लिंक से सुन सकते हैं.
http://www.bbc.co.uk/hindi/multimedia/2012/07/120629_pandit_hari_prasad_audio_pkp.shtml

Vijay Vyas said...

सादर आभार अमित जी।

प्रकाश गोविंद said...

maine Hari Prasad Chaurasiya ki Voice pehchan li thi lekin sawaal poochhne ke andaaj ke kaaran confuse hua. agar sirf itna hi sawaal hota ki "is prasiddh aawaaz ko pehchaniye" to mai bata deta. lekin sawaal poochha gaya ki - "ye kis mashhoor sangeetkar ki aawaaz hai"

kam se kam Hari Prasad Chaurasiya mashhoor sangeetkar hargij nahi hain. haan vishva prasidhh baansuri vaadak jarur hain. 3-4 films men sangeet dene se aap use mashhoor sangeetkar kaise kah sakte hain.

Pankaj Mukesh said...

Mwra bhi kuchh prakash ji ki tarah kahna hai!!!! wo sangeetkaar hain magar bollywood mein mashhoor utna nahin hain jitna shankar jaikishan, kalyan ji aanand ji, LP naushad etc..
aaplogon ko sastriy sangeet ke kshetra mein "mashhoor" likhana chahiye tha. is stambh mein bhi bahut se bauprashidh kalakaar hain jaise Pt. Ravishankar ityaadi...
Aur haan ho sake to NUTAN aur Vaijyantimala ji ke interviez ka link jaroor likhein!!!
shukriya!!!!

Amit said...

प्रकाश जी, पंकज जी, हरिप्रसाद चोरसिया जी का संगीत सर चढकर बोला था. लम्हे, डर, सिलसिला, फासले, अनुराग, चांदनी, परम्परा जैसे कुछ नाम हैं जिनके बल पर कहा जा सकता है कि वो एक मशहूर संगीतकार हैं. मशहूर होने की परिभाषा नम्बर से नहीं आंकी जा सकती. जो चीज लोगों के सर चढकर बोले वो ही मशहूर होता है. उदाहरण के लिए PSY का GANGNAM STYLE एक मशहूर गाना है आज का.


नूतन जी का इंटरव्यू:
http://www.bbc.co.uk/hindi/multimedia/2013/04/130423_nutanaudio_ks.shtml

वैजंतीमाला का इंटरव्यू:

http://www.bbc.co.uk/hindi/multimedia/2013/05/130504_vaijayantimala_audio_pkp.shtml

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ