Saturday, May 4, 2013

सिने-पहेली : देखें जरा किसमें है कितना दम



सिने-पहेली - 62 में आज



'रेडियो प्लेबैक इण्डिया' के सभी पाठकों और श्रोताओं को अमित तिवारी का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों,  सुजॉय जी की व्यस्तता की वजह से सिने-पहेली को फिर से रोकना पड़ा था और 4 हफ्तों के अन्तराल के बाद सिने-पहेली का 62 वां अंक आप सबके सामने है. पहेलियों का पूरा ताना बाना सुजॉय जी का ही रचा हुआ है और मेरा काम केवल प्रस्तुतिकरण का है. गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है पर हमारी कोशिश यही रहेगी कि सिने-पहेली का यह अंक आपको शीतलता प्रदान करे. आज से इस प्रतियोगिता में जुड़ने वाले नये खिलाड़ियों का स्वागत करते हुए हम उन्हें यह भी बताना चाहेंगे कि अभी भी कुछ देर नहीं हुई है, आज से इस प्रतियोगिता में जुड़ कर भी आप महाविजेता बन सकते हैं, यही इस प्रतियोगिता की ख़ासियत है। इस प्रतियोगिता के नियमों का नीचे किया गया है, ध्यान दीजियेगा।




आज की पहेली : कॉलम 1 के गानों को कॉलम 2 के गानों से मिलाइए


क्रमांक
कॉलम 1
कॉलम 2
1 ऐ मेरे हमसफर इक जरा इंतज़ार छोटी छोटी रातें लम्बी हो जाती हैं
2 घुंघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं बिंदिया चमके चूड़ी खनके लोंग मारे लश्कारे
3 तेरी महफिल में किस्मत आजमा कर हम भी देखेंगे पहले प्यार का पहला गम
4 नि सुल्ताना रे प्यार का मौसम आया हो गया है तुझको तो प्यार सजना
5 जीना यहाँ मरना यहाँ इसके सिवा जाना कहाँ ओ ओ जानेजाना ढूंढें तुझे दीवाना


पिछली पहेली का हल

1- भँवरा / गुरुदत्त / भूतनाथ

2- कलियों का चमन


3- पतंग


4- डाक्टर वृन्दावन


5- रात 


 पिछली पहेली के विजेता  


1- चन्द्रकान्त दीक्षित, लखनऊ 10 अंक 

2- पंकज मुकेश, बैंगलुरु 10 अंक 

3- विजय व्यास, बीकानेर 10 अंक 

4- क्षिति तिवारी, जबलपुर 10 अंक 

5- प्रकाश गोविन्द, लखनऊ 10 अंक 

6- आशीष मिश्रा, जौनपुर 10 अंक 

7- महेश बसंतानी, पिट्सबर्ग 10 अंक 

नये प्रतियोगियों का आह्वान

नये प्रतियोगी, जो इस मज़ेदार खेल से जुड़ना चाहते हैं, उनके लिए हम यह बता दें कि अभी भी देर नहीं हुई है। इस प्रतियोगिता के नियम कुछ ऐसे हैं कि किसी भी समय जुड़ने वाले प्रतियोगी के लिए भी पूरा-पूरा मौका है महाविजेता बनने का। अगले सप्ताह से नया सेगमेण्ट शुरू हो रहा है, इसलिए नये खिलाड़ियों का आज हम एक बार फिर आह्वान करते हैं। अपने मित्रों, दफ़्तर के साथी, और रिश्तेदारों को 'सिने पहेली' के बारे में बताएँ और इसमें भाग लेने का परामर्श दें। नियमित रूप से इस प्रतियोगिता में भाग लेकर महाविजेता बनने पर आपके नाम हो सकता है 5000 रुपये का नगद इनाम।

कैसे बना जाए 'सिने पहेली महाविजेता?

1. सिने पहेली प्रतियोगिता में होंगे कुल 100 एपिसोड्स। इन 100 एपिसोड्स को 10 सेगमेण्ट्स में बाँटा गया है। अर्थात्, हर सेगमेण्ट में होंगे 10 एपिसोड्स।

2.
प्रत्येक सेगमेण्ट में प्रत्येक खिलाड़ी के 10 एपिसोड्स के अंक जुड़े जायेंगे, और सर्वाधिक अंक पाने वाले तीन खिलाड़ियों को सेगमेण्ट विजेताओं के रूप में चुन लिया जाएगा।

3.
इन तीन विजेताओं के नाम दर्ज हो जायेंगे 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में। सेगमेण्ट में प्रथम स्थान पाने वाले को 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में 3 अंक, द्वितीय स्थान पाने वाले को 2 अंक, और तृतीय स्थान पाने वाले को 1 अंक दिया जायेगा। छठे सेगमेण्ट की समाप्ति तक 'महाविजेता स्कोरकार्ड' यह रहा... 




4. 10 सेगमेण्ट पूरे होने पर 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में दर्ज खिलाड़ियों में सर्वोच्च पाँच खिलाड़ियों में होगा एक ही एपिसोड का एक महा-मुकाबला, यानी 'सिने पहेली' का फ़ाइनल मैच। इसमें पूछे जायेंगे कुछ बेहद मुश्किल सवाल, और इसी फ़ाइनल मैच के आधार पर घोषित होगा 'सिने पहेली महाविजेता' का नाम।


जवाब भेजने का तरीका

उपर पूछे गए सवालों के जवाब एक ही ई-मेल में टाइप करके cine.paheli@yahoo.com के पते पर भेजें। 'टिप्पणी' में जवाब कतई न लिखें, वो मान्य नहीं होंगे। ईमेल के सब्जेक्ट लाइन में "Cine Paheli # 62" अवश्य लिखें, और अंत में अपना नाम व स्थान लिखें। आपका ईमेल हमें बृहस्पतिवार 9 मई शाम 5 बजे तक अवश्य मिल जाने चाहिए। इसके बाद प्राप्त होने वाली प्रविष्टियों को शामिल नहीं किया जाएगा।


'सिने पहेली' को और भी ज़्यादा मज़ेदार बनाने के लिए अगर आपके पास भी कोई सुझाव है तो 'सिने पहेली' के ईमेल आइडी पर अवश्य लिखें। आप सब भाग लेते रहिए, इस प्रतियोगिता का आनन्द लेते रहिए, क्योंकि महाविजेता बनने की लड़ाई अभी बहुत लम्बी है। आज के एपिसोड से जुड़ने वाले प्रतियोगियों के लिए भी 100% सम्भावना है महाविजेता बनने का। इसलिए मन लगाकर और नियमित रूप से (बिना किसी एपिसोड को मिस किए) सुलझाते रहिए हमारी सिने-पहेली, करते रहिए यह सिने मंथन, आज के लिए मुझे अनुमति दीजिए, अगले सप्ताह फिर मुलाक़ात होगीनमस्कार। 
 




1 comment:

Unknown said...

arrrrre amittttttt! kya paheli taiyar ki hai ki mujhe chkkr aane lg gye ha ha ha smjh me hi nhi aa rha ki kis base pr dono ko milaun ha ha ha. pr....mja aa gya. hoyeeeeeeeeeee
ab hl kr paaun n kr paaun ye alg baat hai pr sbhi gane youtube pr khojkr sun rhi hun ek ek krke .
ab kya krun!! aisiiich hun main to :P

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ