Saturday, February 2, 2013

'सिने पहेली' में आज ताज महल का ज़िक्र


2 फ़रवरी, 2013
सिने-पहेली - 57  में आज 

याद कीजिये 'ताजमहल' वाले गीतों को


'रेडियो प्लेबैक इण्डिया' के सभी पाठकों और श्रोताओं को सुजॉय चटर्जी का प्यार भरा नमस्कार। दोस्तों, दुनिया के सात अजूबों में एक अजूबा है 'ताज महल'। ताज महल को प्रेम का स्मारक (Monument of Love) भी कहा गया है। इससे बेहतरीन प्यार की निशानी और कोई हो ही नहीं सकती। सन्‍ -1631 में जब मुग़ल बादशाह शाहजहाँ की तीसरी पत्नी मुमताज़ महल की 14-वीं सन्तान (गौहरा बेगम) के जन्म के समय मृत्यु हो गई, तब शाहजहाँ शोक में डूब गए थे। मुमताज़ के प्रति उनके दिल में इतना प्यार था कि इसके अगली ही साल, 1632 में उन्होंने मुमताज़ की याद में 'ताज महल' के निर्माण का कार्य शुरू कर दिया। इसका निर्माण 1648 में जा कर सम्पन्न हुआ, और इसके आस-पास की इमारतों और बगीचों के निर्माण में और 5 साल लग गए। शाहजहाँ ने ताज महल की कुछ इन शब्दों में व्याख्या की थी :


"Should guilty seek asylum here,
Like one pardoned, he becomes free from sin.
Should a sinner make his way to this mansion,
All his past sins are to be washed away.
The sight of this mansion creates sorrowing sighs;
And the sun and the moon shed tears from their eyes.
In this world this edifice has been made;
To display thereby the creator's glory."

दोस्तों, आप सोच रहे होंगे कि 'सिने पहेली' में अचानक आज ताज महल की बातें क्यों? दरसल बात ऐसी है कि आज की पहेली ताज महल के इर्द गिर्द ही घूमेगी। तो आइये, और समय गँवाये बिना सीधे पहुँच जाते हैं आज की पहेली पर।


आज की पहेली : ताज के तराने


दोस्तों, हमारी फ़िल्मों का आधार नायक-नायिका के प्रेम संबंध पर ही केन्द्रित होती आयी है। ऐसे में सबसे बड़ी प्रेम की निशानी, ताज महल, का उल्लेख और चित्रण भी फ़िल्मों में होता आया है। लेकिन अगर फ़िल्मी गीतों की बात करें तो कितने ऐसे गीत आप बता सकते हैं जिनमें 'ताज महल' का शाब्दिक उल्लेख हुआ है? चलिए ज़्यादा न सही, पर कम से कम पाँच गीत तो आप सुझा ही सकते हैं, क्यों? जी हाँ, यही है आज का सवाल। आपको पाँच ऐसे फ़िल्मी गीत बताने हैं जिनके मुखड़े या अन्तरे में 'ताज महल' शब्द आते हैं। हर सही गीत के लिए 2 अंक दिये जायेंगे।


जवाब भेजने का तरीका

उपर पूछे गए सवालों के जवाब एक ही ई-मेल में टाइप करके cine.paheli@yahoo.com के पते पर भेजें। 'टिप्पणी' में जवाब कतई न लिखें, वो मान्य नहीं होंगे। ईमेल के सब्जेक्ट लाइन में "Cine Paheli # 57" अवश्य लिखें, और अंत में अपना नाम व स्थान लिखें। आपका ईमेल हमें बृहस्पतिवार 7 फ़रवरी  शाम 5 बजे तक अवश्य मिल जाने चाहिए। इसके बाद प्राप्त होने वाली प्रविष्टियों को शामिल नहीं किया जाएगा।


पिछली पहेली का हल


1. "सुबह सवेरे सबसे पहले बोलो राम राम... मेरे देशवासियों, अपने देश को सम्भालो" (फ़िल्म: देशवासी, गायक: नितिन मुकेश, अनुराधा पौडवाल, साथी)

2. "चलो झूमते सर से बाँधे कफ़न, लहू माँगती है ज़मीने वतन" (फ़िल्म: काबुली ख़ान, अभिनेत्री: हेलेन)

3. "देखो वीर जवानो" (फ़िल्म 'आक्रमण') व "दे दी हमें आज़ादी" (फ़िल्म: 'जागृति')

4. "मेरे देश की धरती" (फ़िल्म: उपकार, गीतकार: गुल्शन बावरा)



पिछली पहेली का परिणाम

इस बार 'सिने पहेली' में कुल 7 प्रतियोगियों ने भाग लिया। सबसे पहली 100% सही जवाब भेज कर इस बार 'सरताज प्रतियोगी' बने हैं बीकानेर के श्री विजय कुमार व्यास। विजय जी, बहुत बहुत बधाई आपको। इस बार हमें निराशा हुई कि नियमित खिलाड़ी क्षिति तिवारी जी प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सकीं। फिर भी वो तीसरे पायदान पर विराजमान हैं। आइए अब नज़र डालते हैं इस सेगमेण्ट के अब तक के सम्मिलित स्कोरकार्ड पर।




नये प्रतियोगियों का आह्वान

नये प्रतियोगी, जो इस मज़ेदार खेल से जुड़ना चाहते हैं, उनके लिए हम यह बता दें कि अभी भी देर नहीं हुई है। इस प्रतियोगिता के नियम कुछ ऐसे हैं कि किसी भी समय जुड़ने वाले प्रतियोगी के लिए भी पूरा-पूरा मौका है महाविजेता बनने का। अगले सप्ताह से नया सेगमेण्ट शुरू हो रहा है, इसलिए नये खिलाड़ियों का आज हम एक बार फिर आह्वान करते हैं। अपने मित्रों, दफ़्तर के साथी, और रिश्तेदारों को 'सिने पहेली' के बारे में बताएँ और इसमें भाग लेने का परामर्श दें। नियमित रूप से इस प्रतियोगिता में भाग लेकर महाविजेता बनने पर आपके नाम हो सकता है 5000 रुपये का नगद इनाम।


कैसे बना जाए 'सिने पहेली महाविजेता?

1. सिने पहेली प्रतियोगिता में होंगे कुल 100 एपिसोड्स। इन 100 एपिसोड्स को 10 सेगमेण्ट्स में बाँटा गया है। अर्थात्, हर सेगमेण्ट में होंगे 10 एपिसोड्स।

2. प्रत्येक सेगमेण्ट में प्रत्येक खिलाड़ी के 10 एपिसोड्स के अंक जुड़े जायेंगे, और सर्वाधिक अंक पाने वाले तीन खिलाड़ियों को सेगमेण्ट विजेताओं के रूप में चुन लिया जाएगा।

3. इन तीन विजेताओं के नाम दर्ज हो जायेंगे 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में। सेगमेण्ट में प्रथम स्थान पाने वाले को 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में 3 अंक, द्वितीय स्थान पाने वाले को 2 अंक, और तृतीय स्थान पाने वाले को 1 अंक दिया जायेगा। पाँचवें सेगमेण्ट की समाप्ति तक 'महाविजेता स्कोरकार्ड' यह रहा...



4. 10 सेगमेण्ट पूरे होने पर 'महाविजेता स्कोरकार्ड' में दर्ज खिलाड़ियों में सर्वोच्च पाँच खिलाड़ियों में होगा एक ही एपिसोड का एक महा-मुकाबला, यानी 'सिने पहेली' का फ़ाइनल मैच। इसमें पूछे जायेंगे कुछ बेहद मुश्किल सवाल, और इसी फ़ाइनल मैच के आधार पर घोषित होगा 'सिने पहेली महाविजेता' का नाम। महाविजेता को पुरस्कार स्वरूप नकद 5000 रुपये दिए जायेंगे, तथा द्वितीय व तृतीय स्थान पाने वालों को दिए जायेंगे सांत्वना पुरस्कार।

'सिने पहेली' को और भी ज़्यादा मज़ेदार बनाने के लिए अगर आपके पास भी कोई सुझाव है तो 'सिने पहेली' के ईमेल आइडी पर अवश्य लिखें। आप सब भाग लेते रहिए, इस प्रतियोगिता का आनन्द लेते रहिए, क्योंकि महाविजेता बनने की लड़ाई अभी बहुत लम्बी है। आज के एपिसोड से जुड़ने वाले प्रतियोगियों के लिए भी 100% सम्भावना है महाविजेता बनने का। इसलिए मन लगाकर और नियमित रूप से (बिना किसी एपिसोड को मिस किए) सुलझाते रहिए हमारी सिने-पहेली, करते रहिए यह सिने मंथन, आज के लिए मुझे अनुमति दीजिए, अगले सप्ताह फिर मुलाक़ात होगी, नमस्कार। 

1 comment:

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

अब ताज किसने बनवाया इस पर प्रश्नचिन्ह तो ओक साहब की पुस्तक ने लगा दिया, लेकिन इमारत तो वाकई बेहद सुन्दर है.

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ