Tuesday, September 25, 2012

कहानी पॉडकास्ट - एक पढ़ी लिखी स्त्री - क्रांति त्रिवेदी - शेफाली गुप्ता

'बोलती कहानियाँ' इस स्तम्भ के अंतर्गत हम आपको सुनवा रहे हैं प्रसिद्ध कहानियाँ। पिछले सप्ताह आपने देवेन्द्र पाठक "मुन्ना" की आवाज़ में प्रसिद्ध हिंदी साहित्यकार हरिशंकर परसाई का व्यंग्य "मध्यम वर्गीय कुत्ता" का पॉडकास्ट सुना था। आवाज़ की ओर से आज हम लेकर आये हैं प्रसिद्ध हिंदी साहित्यकार क्रांति त्रिवेदी की कहानी "एक पढ़ी लिखी स्त्री", जिसको स्वर दिया है शेफाली गुप्ता ने।

एक पढ़ी लिखी स्त्री का पाठ्य अभिव्यक्ति पर उपलब्ध है।

इस कहानी का कुल प्रसारण समय 8 मिनट 19 सेकंड है। सुनें और बतायें कि हम अपने इस प्रयास में कितना सफल हुए हैं। यदि आप भी अपनी मनपसंद कहानियों, उपन्यासों, नाटकों, धारावाहिको, प्रहसनों, झलकियों, एकांकियों, लघुकथाओं को अपनी आवाज़ देना चाहते हैं तो अधिक जानकारी के लिए कृपया admin@radioplaybackindia.com पर सम्पर्क करें।

मध्य प्रदेश राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के अध्यक्ष कैलाश पंत ने 30 अक्टूबर 2010 को घोषणा की कि मध्यप्रदेश में हर वर्ष युवा कथाकारों के लिए क्रांति त्रिवेदी पुरस्कार दिया जायेगा।

क्रांति त्रिवेदी ~ जन्म : रायपुर, छत्तीसगढ। शिक्षा : एम ए, नागपुर विश्वविद्यालय। कहानी संग्रह - दीप्त प्रश्न, शायर का अंत, एक अंतहीन प्यास, नारी मन की कहानियां, नारी तथा अन्य कहानियां, दीक्षा।


हर सप्ताह "बोलती कहानियाँ" पर सुनें एक नयी कहानी

"सीखूँगी माँ, सब कुछ सीखूँगी। मैंने कब कहा कि पढ़ाई से सारे काम हो जाते हैं लेकिन माँ पढ़ाई को सबसे प्रमुख रखूँगी।" (क्रांति त्रिवेदी की "एक पढ़ी लिखी स्त्री" से एक अंश)

नीचे के प्लेयर से सुनें.
(प्लेयर पर एक बार क्लिक करें, कंट्रोल सक्रिय करें फ़िर 'प्ले' पर क्लिक करें।)

 यदि आप इस पॉडकास्ट को नहीं सुन पा रहे हैं तो नीचे दिये गये लिंक से डाऊनलोड कर लें:
VBR MP3
(लिंक पर राइटक्लिक करके सेव ऐज़ का विकल्प चुनें)

#31th Story, Ek Padhi Likhi Stri: Kranti Trivedi/Hindi Audio Book/2012/31. Voice: Shaifali Gupta

1 comment:

Udai Singh said...

beautiful story beautifully read. thanks for this joy.

The Radio Playback Originals (Click on the covers to reach out the Albums)



Popular Posts सर्वप्रिय रचनाएँ